Sunday, 3 April 2011

बीयर क्यों पीनी चाहिए - १



बीयर मुझे इसलिए पसंद नहीं कि मुझे उससे नशा होता है, मुझे बीयर से नशा नहीं होता. मगर बीयर पीने के बाद मुझे अक्सर उन चीज़ों का बोध होता है जो वैसे अमूमन मेरे ऊपर से सरसरी तौर पर गुज़र जाती हैं. वैसे यह भी मैं बीयर पीने के बाद ही लिख रहा हूँ.

16 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

जो भी ज्ञानबोध करा दे।

amit-nivedita said...

हाला गई हलक में ,हाल दिल का बाहर कर गई ।

निशांत मिश्र - Nishant Mishra said...

कुछ तफसील से लिखते तो मैं भी कुछ कहता.

Abhishek Ojha said...

:)

ज्ञानदत्त पाण्डेय Gyandutt Pandey said...

लगता है बीयर खुल कर कहने से मना करती है!

महेन said...

ज्ञान जी, बीयर महान बातें कहने के लिये प्रेरित करती है और महान बातें वन लाइनर्स में ही कही जाती हैं।
निशांत भाई, बीयर तफ़सील से कहने के लिये मना करती है, तफ़सील से सुनने के लिये नहीं।
अभिषेक, क्या यह स्माइली वही कह रही है जो मुझे दीख रहा है?

अजेय said...

हाँ,और क्भी कभी बीयर चीज़ों को मेग्निफाई / एम्प्लिफाई कर देती है मानो हम ने दिमाग पर लेंस पहन लिया हो या हेड्फोन .....

यह अद्भुत है. पर ऐसा ज़रूरी नही कि बीयर से ही होता हो हमे इस से बेहतर प्रयोग नहीं तलाशने चाहिए क्या ?

महेन said...

अजेय भाई,
सूक्तियों के अनुसार,

"जिस पेड के नीचे बैठ कर
ऋत्विक घटक
कुरते की जेब से निकालते हैं अद्धा

वहीं बन जाता है अड्डा

वहीं हो जाता है
बोधिवृक्ष!"

डा० अमर कुमार said...

Moderation ?

डॉ .अनुराग said...

से आज ही इत्तेफकान किसी की डायरी पढ़ रहा था ....किसी फ़कीर की ...उसकी पहली लाइन भी यही थी .बस बियर की जगह ....

Udan Tashtari said...

बीयर ही से सही.....

सुशील कुमार छौक्कर said...

बीयर पीने के बाद मुझे अक्सर उन चीज़ों का बोध होता है जो वैसे अमूमन मेरे ऊपर से सरसरी तौर पर गुज़र जाती हैं.


फिर तो मुझे भी बीयर पीना शुरु कर देना चाहिए,वैसे बीयर का स्वाद कैसा होता है महेन भाई। और फिलहाल तो इस फोटो को डेस्कटाप पर लगा रहा हूँ :)

मुनीश ( munish ) said...

only i can appreciate what u mean and that is why i took a month to comment. vaise Indian beer mein Kalyani black-label piyoge to yaad karoge .Indian beer and Rum are among the best in world.

मुनीश ( munish ) said...

no objection if u prefer German but i have come to this conclusion that Indian is also Good .

महेन said...

In my personal opinion Indian beers and foreign beers in India lack consistency in taste. And whatever little beer I have tasted so far, Carlsburg is my all time favourite. Btw I am yet to try German beers.

मुनीश ( munish ) said...

Itz Danish of course but when i commented i was under the spell of Japanese saake'--a desi stuff here.